व्यापार

बजट 2019: 5 लाख तक की इनकम पर टैक्‍स में छूट, बजट से जुड़ी सभी बातें

नई दिल्ली. वित्त मंत्री पीयूष् गोयल ने आज अंतरिम बजट 2019 पेश किया। मोदी सरकार के छठे बजट में पीयूष गोयल ने 2019- 20 का अंतरिम बजट पेश करते हुए कई लोक लुभावन घोषणाएं की हैं। इस बजट में हर वर्ग को संतुष्ट करने की कोशिश की गई। बजट प्रस्तावों में किसानों, मजदूरों और मध्यम वर्ग को लुभाने के लिए कई बड़ी घोषणाएं की गई हैं।

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने इस बजट के लिए वित्त मंत्री पीयूष गोयल की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस बजट से मध्यम वर्ग की क्रय शक्ति भी बढ़ेगी। जेटली अभी इलाज के लिए अमेरिका में हैं। उनकी जगह अभी गोयल वित्त मंत्रालय का कार्यभार संभाल रहे हैं।

किसान

-प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की घोषणा
-2 हेक्टेयर तक जमीन वाले किसानों को हर साल 6000 रुपए पैसे सीधे खाते में डाले जाएंगे।
-2000-2000 रुपए तीन बराबर किस्तों में जमा होगा पैसा
-किसानों को सस्ता लोन देने के लिए ब्याज सब्सिडी की राशि दोगुना कर दी गई है।
-राष्ट्रीय गोकुल मिशन के लिए आवंटन को बढ़ाकर 750 करोड़ कर दिया गया है।
-पशुपालन और मछली पालन करने वाले किसानों को 2 प्रतिशत ब्याज सब्सिडी का लाभ मिलेगा, जो क्रेडिट कार्ड के माध्यम से लोन लेते हैं। लोन को समय पर चुकाने से 3 प्रतिशत अतिरिक्त ब्याज सब्सिडी मिलेगी।
-आपदा से प्रभावित किसानों को 2% ब्याज सब्सिडी। तत्काल भुगतान प्रोत्साहन के रूप में 3 प्रतिशत अतिरिक्त ब्याज सब्सिडी का लाभ।

मजदूर और कामगार के लिए

-बोनस को 3500 से बढ़ाकर 7000 रुपए कर दिया गया है। वेतन को 10000 से बढ़ाकर 21000 रुपए कर दिया गया है।
-ग्रैच्यूटी के भुगतान के 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख कर दिया गया है।
-ESI की सुरक्षा पात्रता की सीमा को 15000 से बढ़ाकर 21000 कर दिया गया है।
-प्रत्येक श्रमिक के लिए न्यूनतम पेंशन 1000 रुपए प्रति माह तय।
-मृत्यु होने पर EPFO द्वारा राशि 2.5 लाख से बढ़ाकर 6 लाख की गई।
-आंगनबाड़ी और आशा योजना के तहत मानदेय में लगभग 50% की वृद्धि।
-प्रधानमंत्री श्रम योगी-धन पेंशन योजना का आरंभ
-60 साल बाद 3000 रुपए हर माह पेंशन मिलेगी। हर माह 100 रुपए का अंशदान देना होगा।

महिलाओं के लिए

-उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ गैस कनेक्शन देने का कार्यक्रम
-महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण मिशन के लिए 1330 करोड़ रुपये आवंटित किए

रक्षा के क्षेत्र में

-रक्षा बजट पहली बार 3,00,000 करोड़ से अधिक गया।
-जोखिम पर ड्यूटी में तैनात सैनिकों के विशेष भत्तों में बढ़ोतरी

नौकरी करने के लिए

-आयकर में छूट को 5 लाख रुपए कर दिया।
-मानक कटौती को 40000 से बढ़ाकर 50000 किया गया।
-बैंकों/डाकघरों में जमा राशियों से अर्जित ब्याज पर कर कटौती 10000 से बढ़ाकर 40000 कर दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *