व्यापार

मूडीज की रिपोर्ट ने पाकिस्तान को दिया झटका, और ज्यादा खस्ताहाल हो सकती है इकोनॉमी

Publish Date:Fri, 13 Sep 2019 01:44 PM (IST)

मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, आइएनएस। पाकिस्तान की इकोनॉमी पहले ही खस्ताहाल है और रेटिंग एजेंसी मूडीज की ताजा रिपोर्ट की मानें तो अमेरिका-चीन व्यापारिक तनाव अगर और लंबा चला तो पाकिस्तान का वित्तीय संकट और गंभीर रूप ले सकता है। मूडीज ने ऐसे देशों की एक सूची बनायी है, जिन्हें अमेरिका-चीन के बीच व्यापारिक तनाव के चलते आर्थिक मोर्चे पर गंभीर संकट का सामना करना पड़ सकता है।

रेटिंग एजेंसी ने पाकिस्तान को भी इस सूची में शामिल किया है। विदेशी कर्ज पर बहुत अधिक निर्भरता और बाहरी कर्ज के भुगतान के लिए बहुत कम पैमाने पर रिजर्व कवरेज होने के कारण पाकिस्तान की स्थिति बदतर हो सकती है।

‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की खबर के मुताबिक मूडीज ने वैश्विक स्तर पर ग्रोथ में स्लोडाउन के साथ सामान्य तौर पर स्थिर वित्तीय स्थिति की बात कही है। हालांकि, रेटिंग एजेंसी के मुताबिक अमेरिका-चीन के बीच का मौजूदा तनाव और राजनीतिक टकराव से जुड़े वैश्विक मुद्दे और इमर्जिंग मार्केंट एवं फ्रंटियर मार्केट में सोवरेन का कुछ देशों पर गंभीर प्रभाव देखने को मिल सकता है।

पाकिस्तान को झेलना पड़ सकता है इकोनॉमिक शॉक 

मूडीज की ताजा रिपोर्ट में कहा गया है कि इन घटनाक्रमों के कारण पाकिस्तान सहित कुछ देशों को फाइनेंशियल शॉक का सामना करना पड़ सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान, श्रीलंका, मिस्र, अंगोला और घाना जैसे देशों के कर्ज भुगतान क्षमता पर सबसे अधिक असर पड़ सकता है।

पाकिस्तान झेल रहा भारी राजकोषीय घाटा

पाकिस्तान का मौजूदा वित्तीय संकट भारी राजकोषीय घाटे एवं फॉरेन एक्सचेंज इनफ्लो में कमी के कारण और गंभीर हो जाता है। बाहरी असंतुलन को लेकर पिछले दो साल में पाकिस्तान के केंद्रीय बैंक ने ब्याज दरों में 7.50 प्रतिशत की वृद्धि की है। इससे पाकिस्तान की राजकोषीय स्थिति और कमजोर हो गयी है। 

Posted By: Ankit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Source: jagran.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *