मनोरंजन

मुंबई की निष्ठा डुडेजा को मिला मूक एशिया सुंदरी का खिताब, अब मूक विश्व सुंदरी बनना है लक्ष्य

Publish Date:Sat, 10 Aug 2019 04:33 PM (IST)

नई दिल्ली, जेएनएन। विश्व सुंदरी बनने के लिए बोलना जरुरी है लेकिन मूक होने के बाद भी मुम्बई के मीठी बाई कॉलेज में पड़ने वाली निष्ठा डुडेजा मूक एशिया सुंदरी बनी। उनकी इस उपलब्धि और दूसरों को प्रेरणा देने के लिए निष्ठा का मुम्बई में सम्मान किया गया।

मेहनत और काबिलियत से कोई भी सफलता हासिल कर सकता है और ऐसी सफलता दूसरों को प्रेरित करती है।इसका उदाहरण हैं निष्ठा डुडेजा जो कि बोल नहीं सकती लेकिन उन्होंने सुंदरता का अवॉर्ड अपने नाम किया है। दरअसल निष्ठा ने मूक एशिया सुंदरी का खिताब जीता है।

केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मन्त्री रामदास आठवले ने सीएसआर रिसर्च फाउंडेशन की तरफ से आर्थिक समावेश विषय पर दो दिन के सेमिनार में ये सम्मान दिया।

बचपन से ही मूक निष्ठा को उनके पिता ने कभी कम नहीं आंका। वो सामान्य स्कूल में ही पढ़ी और बैडमिंटन में नेशनल तक खेली। अब मुम्बई में पढ़ रही निष्ठा एक्टिंग और मॉडलिंग में कैरियर बनाना चाहती हैं। हाल ही में निष्ठा को एक और उपलब्धि हासिल हुई। उनके परिवार की मुलाकात भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से हुई।

निष्ठा मानती हैं कि ईश्वर ने सबको कुछ न कुछ दिया है। बात कहने और समझने के लिए उनको शब्द नहीं बस अर्थपूर्ण संकेतों की जरूरत होती है। कई फैशन शो में हिस्सा ले चुकी निष्ठा अब मिस मूक विश्व सुंदरी बनने की तैयारी कर रही हैं।

Posted By: Rahul soni

Source: Jagran.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *