स्वास्थ्य

जानवरों की लिए भी हैं मच्छर खतरनाक, दूध उत्पादन होता है प्रभावित

मच्छरों का दुष्प्रभाव न केवल इंसानों पर पड़ता है बल्कि जानवरों पर भी पड़ता है। और इसका जानवरों पर इसका सीधा असर देखा जा सकता है। मच्छरों के काटने से जानवर तनाव में आ जाते हैं और उनके दूध उत्पादन की क्षमता पर भी लगभग 10 से 15 प्रतिशत तक का प्रभाव पड़ता है। इसलिए ये जरूरी है कि बारिश के समय खुद के साथ जानवरों को भी ज्यादा देखभाल की जरूरत होती है।

मच्छर के बार-बार काटने से जानवर परेशान हो जाते हैं और ठीक से चारा भी नहीं खा पाते है। बारिश के मौसम में गंदगी की वजह से मच्छर ज्यादा हो जाते हैं और मच्छर जानवरों के पांव पर ज्यादातर काटते हैं। इसलिए जानवरों को बांधने कि जगह पर साफ सफाई रखनी चाहिए। क्योंकि कई बार ज्यादा मच्छर के काटने से पैरों से खून तक आने लगता है जिसका सीधा-सीधा असर उसके दुग्ध उत्पादन पर भी पड़ता है।

कैसे रखें जानवरों का ख्याल –

  • आप मच्छरदानी और धुआं आदि की मदद से मच्छरों को दूर भगा सकते हैं।
  • हल्के नीम के तेल की मालिश पशु के शरीर पर करें ।
  • नीम और तुलसी के पत्तों को जला कर एक कोने में रख दें और थोड़ी देर बाद में ही बुझा दें ।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Mosquitoes are dangerous for animals, milk production is affected

Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *