स्वास्थ्य

ये पौधे दिलाएँगे मच्छरों से छुटकारा

बरसात के मौसम में हर जगह पानी भरना लाज़मी है ऐसे में मच्छरों की तादात भी तेज़ी से बढ़ने लगती है। इनके काटने से मलेरिया, डेंगू, स्वाइन फ्लू, चिकनगुनिया जैसी जानलेवा बीमारियां फैलती हैं। इन बीमारों से बचाव के लिए लोग क्रीम्स, स्प्रे, मैट जैसे कई तरह के उपाय आज़माए भी जाते हैं। लेकिन आज हम कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताएँगे जिनकी मदद से मच्छरों से छुटकारा पाना और आसान हो जाएगा।

बरसात के मौसम में हर जगह पानी भरना लाजमी है ऐसे में मच्छरों की तादात भी तेज़ी से बढ़ने लगती है। इनके काटने से मलेरिया, डेंगू, स्वाइन फ्लू, चिकनगुनिया जैसी जानलेवा बीमारियां फैलती हैं। इन बीमारों से बचाव के लिए लोग क्रीम्स, स्प्रे, मैट जैसे कई तरह के उपाय आजमाएं भी जाते हैं। लेकिन आज हम कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताएंगे जिनकी मदद से मच्छरों से छुटकारा पाना और आसान हो जाएगा।

कम खर्च में ऐसे बच्चे मच्छरों से –
घरों में पौधे न केवल सुंदरता को बढ़ाते हैं बल्कि ये सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होते हैं। ऐसे में कई पौधे ऐसे भी होते हैं जो मच्छरों को दूर भी भागते हैं जिसे आप घर के बाहर गार्डन में, आंगन या फिर बालकनी में लगा सकते हैं। जानते हैं उन पौधों के बारें में –

1. तुलसी- तुलसी का पौधा तो अधिकतर हर किसी के घर में मिल जाता है। इस पौधे की कई लोग पूजा भी करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं ये पौधे की एक खास बात ये भी है कि इस पौधे कि सुगंध से मच्छर भी दूर भागते हैं। इस पौधे को आप घर के बाहर, दरवाजे के पास या खिड़की पर लगा सकते हैं। मच्छर काटने के बाद भी तुलसी काफी फायदेमंद है।

2. नीम का पेड़- अगर आपके घर के आसपास या गार्डन में नीम का पेड़ नहीं है तो जल्द ही आप वहाँ नीम का पौधा लगा सकते हैं। नीम के पौधे से आपको मच्छर ज्यादा परेशान नहीं करेंगें और साथ ही मक्खी और दूसरी तरह के कीड़ों को दूर करने के लिए नीम का पौधा लगाना काफी लाभदायक होता है।

3. गेंदे के फूल कि खुशबू किसको नहीं पसंद? घर की सजावट से लेकर पूजा के लिए इन फूलों का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन मच्छरों को गेंदे की महक पसंद नहीं आती। फूलों की तेज़ महक से मच्छर दूर भागते हैं। ऐसे में इनसे छुटकारा पाने के घर के बगीचे या फिर घर के बाहर गमलों में गेंदें का पौधा लगा सकते हैं।

Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *