देश

इंग्लैंड-पाकिस्तान के बीच मैच आज, लगातार 11 हार के क्रम को तोड़ने पर पाक की नजर

  • मैच का प्रसारण दोपहर 3:00 बजे से स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर होगा
  • पाकिस्तान को पिछले मैच में वेस्टइंडीज ने 7 विकेट से हराया था
  • इंग्लैंड ने अपने पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को 104 रन से शिकस्त दी थी

खेल डेस्क. वर्ल्ड कप के छठे मैच में मेजबान इंग्लैंड का मुकाबला पाकिस्तान से नॉटिंघम में होगा। यह मैच भारतीय समयानुसार दोपहर 3:00 बजे से खेला जाएगा। पाक को टूर्नामेंट में अपने पहले मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। वहीं, इंग्लैंड ने दक्षिण अफ्रीका को हराया था। सरफराज अहमद की कप्तानी में पाकिस्तानी टीम लगातार 11 मैच हार चुकी है। उसे पिछली जीत 27 जनवरी को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मिली थी। इसके बाद अफ्रीकी टीम ने एक, ऑस्ट्रेलिया ने पांच, इंग्लैंड ने चार और वेस्टइंडीज ने एक मैच में उसे शिकस्त दी।

दोनों टीमें इस मैदान पर 17 दिनों बाद दोबारा से आमने-सामने होगी। पिछले मैच में इंग्लैंड ने पाकिस्तान को तीन विकेट से हराया था। तब पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट पर 340 रन बनाए थे। इंग्लैंड ने सात विकेट के नुकसान पर 49.3 ओवर में 341 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया था।

पाकिस्तान ने नॉटिंघम में इंग्लैंड से सिर्फ तीन मैच जीते
इस मैदान पर दोनों टीमों के रिकॉर्ड की बात करे तो पाकिस्तान ने यहां 14 मैच खेले। इनमें 7 जीते और इतने ही मैच में उसे हार का सामना करना पड़ा। हालांकि, इंग्लैंड के खिलाफ यहां आठ में से पांच मुकाबलों में उसे हार मिली है। वह तीन मैच ही जीत सका। दूसरी ओर, इंग्लैंड ने यहां 34 में 17 मैच जीते। 14 में उसे हार मिली। जबकि, दो मैच टाई रहा और एक में नतीजा नहीं निकला।

पाकिस्तान-इंग्लैंड हेड टू हेड
दोनों टीमों के बीच अब तक कुल 87 मैच खेले गए हैं। इनमें से इंग्लैंड ने 53 और पाकिस्तान ने 31 जीते हैं। तीन मैच में नतीजा नहीं निकला। वर्ल्ड कप की बात करें तो दोनों टीमें अब तक 9 बार आमने-सामने हो चुकी है। इनमें इंग्लैंड को चार और पाकिस्तान को भी चार में जीत मिली। एक मैच का नतीजा नहीं निकला।

पिच का मिजाज : नॉटिंघम में बादल छाए रहेंगे। मैच के शुरुआत में तेज गेंदबाजों को स्विंग मिल सकती है। इस पिच पर दोनों टीमों के बीच खेले गए पिछले मैच में भी 300+ रन बने थे। आज भी जो टीम शुरुआती ओवरों में संभल कर खेलेगी, वह बड़ा स्कोर बनाने में कामयाब होगी।

पाकिस्तान की ताकत
बाबर आजम : पाकिस्तान के बल्लेबाजी के मजबूत स्तंभ कहे जाने वाले बाबर आजम पिछले एक साल से बढ़िया फॉर्म में हैं। उन्होंने इस दौरान 24 मैच में 972 रन बनाए। बाबर ने दो शतक भी लगाए। उनका औसत 51.15 का रहा। हालांकि, पिछले मैच में वे वेस्टइंडीज के खिलाफ सिर्फ 22 रन ही बना सके थे। इस मैच में टीम को उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

मोहम्मद आमिर : पाकिस्तान के सबसे प्रमुख गेंदबाज मोहम्मद आमिर पिछले एक साल से फॉर्म में नहीं थे। वर्ल्ड कप से पहले 12 महीने में उन्होंने 11 मैच में सिर्फ तीन विकेट ले सके थे। अनुभव के कारण चयनकर्ताओं ने उन पर विश्वास दिखाते हुए वर्ल्ड कप टीम में शामिल किया। उन्होंने चयनकर्ताओं के इस फैसले को सही साबित करते हुए वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन विकेट लिए। कप्तान सरफराज इंग्लैंड के खिलाफ भी आमिर से वैसे ही प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे होंगे।

पाकिस्तान की कमजोरी
आउट ऑफ फॉर्म बल्लेबाज : वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले मैच में पाकिस्तान की बल्लेबाजी पूरी तरह से बिखर गई थी। ओपनर फख्र जमां और बाबर ने 22-22 रन बनाए। इन दोनों के अलावा कोई भी बल्लेबाज 20 का स्कोर नहीं छू सका। हारिस सोहैल 8, सरफराज 8, मोहम्मद हफीज 16 और इमाद वसीम 1 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इंग्लैंड के खिलाफ जीतने के लिए जरुरत पड़ने पर मध्यक्रम को रन बनाने होंगे।

इंग्लैंड की ताकत
बेन स्टोक्स : दुनिया के टॉप ऑलराउंडर में शुमार बेन स्टोक्स ने पिछले एक साल में 18 मुकाबले खेले। इस दौरान 51.50 की औसत से उन्होंने 515 रन बनाए। गेंदबाजी में सात विकेट भी लिए। स्टोक्स ने पिछले मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ऑलराउंड प्रदर्शन किया था। उन्होंने बल्लेबाजी करते हुए 89 रन बनाए थे। वहीं, गेंदबाजी में दो विकेट भी नाम किए थे। इंग्लैंड के कप्तान इयॉम मार्गन उनसे इस मैच में भी वैसे ही प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे होंगे।

जोफ्रा आर्चर : 24 साल के जोफ्रा इंग्लैंड के लिए अब तक 4 वनडे ही खेल पाए हैं। इसमें उन्होंने 6 विकेट लिए हैं। पिछले मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उन्होंने सात ओवर में 27 रन देकर तीन विकेट अपने नाम किए थे। औसतन 140 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गेंद फेंकने की इनकी ताकत ने अफ्रीकी बल्लेबाजों को परेशान किया था। पाक के खिलाफ वे उस प्रदर्शन को दोहराना चाहेंगे।

इंग्लैंड की कमजोरी 
गेंदबाजी में अनुभव की कमी : इंग्लैंड की टीम ने पिछले मैच में गेंदबाजों के दम पर इंग्लैंड को हरा दिया था, लेकिन उनके गेंदबाजों में अनुभव की कमी है। मार्क वुड ने 40, आदिल रशीद ने 88, लियम प्लंकेट ने 82, टॉम करन ने 17, क्रिस वोक्स ने 88 और आर्चर ने सिर्फ चार वनडे खेले हैं। मैच के अहम मौकों पर अनुभवी गेंदबाजों का होना किसी भी टीम के लिए जरूरी होता है।

दोनों टीमें : 
इंग्लैंड : इयॉन मॉर्गन (कप्तान), जेसन रॉय, जॉनी बेयरस्टो, जो रूट, बेन स्टोक्स, जोस बटलर (विकेटकीपर), मोइन अली, क्रिस वोक्स, लियम प्लंकेट, जोफ्रा आर्चर, आदिल रशीद, टॉम करन, मार्क वुड, जेम्स विंस, लियम डॉसन।

पाकिस्तान : सरफराज अहमद (पाकिस्तान), आसिफ अली, बाबर आजम, फख्र जमां, हैरिस सोहेल, हसन अली, इमाद वसीम, इमाम-उल-हक, मोहम्मद आमिर, मोहम्मद हफीज, मोहम्मद हसनैन, शादाब खान, शाहीन अफरीदी, शोएब मलिक, वहाब रियाज।

Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *