देश

मैनचेस्टर में 20 साल बाद दोनों टीमें आमने-सामने, मुकाबले में बारिश खलल डाल सकती है

  • मैच का प्रसारण दोपहर 3:00 बजे से स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर
  • कोहली पाक के खिलाफ वर्ल्ड कप में कप्तानी करने वाले चौथे भारतीय होंगे
  • इस वर्ल्ड कप में मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर यह पहला मैच

खेल डेस्क. वर्ल्ड कप के 22वें मैच में भारत का मुकाबला रविवार को पाकिस्तान से मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर होगा। दोनों टीमें इस मैदान पर 20 साल बाद आमने-सामने होंगी। पिछली बार टीम इंडिया 47 रन से जीती थी। इंग्लैंड में दोनों टीमें दो साल बाद एक-दूसरे के खिलाफ कोई मैच खेलेंगी। पिछली बार चैम्पियंस ट्रॉ़फी के फाइनल में पाकिस्तान ने भारत को 180 रन से हरा दिया था। टीम इंडिया इस मैच में उस हार का भी बदला लेना चाहेगी। विराट कोहली वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ टीम की कमान संभालने वाले चौथे कप्तान होंगे। उनसे पहले मोहम्मद अजरुद्दीन, सौरव गांगुली और महेंद्र सिंह धोनी ने हर बार टीम को जीत दिलाई थी।

दर्शकों को चार साल से इस मुकाबले का इंतजार है, लेकिन उनकी उम्मीदों को बारिश के चलते झटका लग सकता है। एक्यूवेदर डॉट कॉम के मुताबिक, मैनचेस्टर में बारिश होने की 63% आशंका है। इससे मैच प्रभावित होगा। यहां पर इस वर्ल्ड कप में पहला मैच खेला जाएगा। इससे पहले वर्ल्ड कप के 19 में से 3 मैच बारिश की वजह से रद्द हो गए, जबकि एक मैच का नतीजा नहीं निकला। 13 जून को भारत-न्यूजीलैंड का मैच भी बारिश के कारण रद्द हो गया था।

भारत-पाकिस्तान

मैच रद्द हुआ तो 140 करोड़ का नुकसान हो सकता है
मैच रद्द हुआ तो स्पॉन्सर्स (स्टार स्पोर्ट्स) को इस एक मैच से ही 140 करोड़ रुपए का नुकसान हो सकता है। अब तक बारिश से 4 मैच रद्द हो चुके हैं। इससे स्टार को 100 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है। दरअसल, मैच के दौरान विज्ञापन के लिए 10 सेकंड के ऐड स्लॉट का रेट 1.6 लाख से 1.8 लाख रुपए तक है। जबकि भारत-पाक मैच में यह बढ़कर 2.5 लाख रुपए तक पहुंच गया है।

स्पॉन्सर्स ने विज्ञापन के कुल हिस्से की 50% राशि इस मैच पर लगाई
इस मैच के लिए विज्ञापन स्लॉट एडवांस में बुक करा दिए गए हैं। कई स्पॉन्सर्स ने विज्ञापन के कुल हिस्से की 50% राशि भारत-पाक के मैच पर लगा रखी है। स्टार स्पोर्ट्स ने मैच के दौरान दिखाए जाने वाले विज्ञापनों के लिए 5500 सेकंड का स्लॉट कंपनियों को दे रखा है। इससे स्टार को 140 करोड़ रुपए तक कमाई की उम्मीद है।

भारत v/s पाकिस्तान हेड टू हेड
दोनों टीमों के बीच अब तक कुल 131 मैच हुए। इनमें भारतीय टीम 54 में जीती। हालांकि, पाकिस्तान को 73 मैच में सफलता मिली। चार मुकाबलों में नतीजा नहीं निकला। वर्ल्ड कप की बात करें तो दोनों टीमें सातवीं बार आमने-सामने होंगी। इससे पहले छह मैच भारतीय टीम ही जीती।

भारत-पाकिस्तान

पिच रिपोर्ट : इस मैदान खेले गए पिछले पांच लिस्ट ए मैच में औसत स्कोर 260 रहा है। टॉस जीतने वाली टीम पहले गेंदबाजी करना पसंद करेगी। यहां 45 में से सिर्फ 18 वनडे में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम जीती है। 2015 के बाद से इस मैदान पर पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम का औसत स्कोर 212 रन है। टीम इंडिया के कोहली चाहेंगे कि उनकी टीम को रन चेज करने का मौका मिले।
 
भारत की मजबूती
विराट कोहली:  विराट कोहली ने दूसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 82 रन की पारी खेली थी। वे पिछले एक साल से फॉर्म में हैं। उन्होंने इस दौरान 21 मैच खेले। इस दौरान 71.31 की औसत से 1355 रन बनाए। छह शतक भी लगाए। कोहली ने पाकिस्तान के खिलाफ 2015 वर्ल्ड कप में शतक लगाया था। तब भारतीय टीम को 76 रन से जीत मिली थी। पाक के खिलाफ उन्होंने कुल 12 मैच में 459 रन बनाए।

गेंदबाजी: भारत ने दक्षिण अफ्रीका को पहले मैच में 227 रन पर रोक दिया। वहीं, दूसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 352 रन का बचाव किया। गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को 50 ओवर में 316 रन पर ऑलआउट कर दिया। दोनों मैच को मिलाकर बात करें तो तेज गेंदबाजों ने 10 विकेट लिए। वहीं, स्पिनर्स के खाते में सात विकेट गए।

भारत की कमजोरी
चौथे नंबर का बल्लेबाज: इस मैच में शिखर धवन नहीं खेलेंगे। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनका अंगूठा चोटिल हो गया था। उनकी जगह लोकेश राहुल ओपनिंग करेंगे। ऐसे में चौथे नंबर पर टीम इंडिया किसी अन्य बल्लेबाज को उतारेगी। माना जा रहा है कि दिनेश कार्तिक और विजय शंकर में से किसी एक को मौका मिल सकता है। ऐसे में इस बड़े मुकाबले में दोनों पर दबाव होगा। अगर भारतीय टीम के शुरुआती दो बल्लेबाज जल्दी आउट हो गए तो चौथे नंबर पर कौन उतरता है इस पर सबकी नजर रहेगी।

पाकिस्तान की ताकत
मोहम्मद हफीज: क्रिकेट जगत में ‘प्रोफेसर’ के नाम से मशहूर मोहम्मद हफीज टूर्नामेंट में पाकिस्तान के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने इस बार तीन पारियों में 146 रन बनाए। इस दौरान उनका औसत 48.67 और स्ट्राइक रेट 108.15 का रहा है। वे टॉप-20 में शामिल एकमात्र पाकिस्तानी बल्लेबाज हैं। भारत के खिलाफ भी उनका प्रदर्शन बेहतरीन रहा है। उन्होंने  11 मैच में 48.60 की औसत से 486 रन बनाए। इस दौरान एक शतक लगाया और गेंदबाजी में नौ विकेट भी लिए।

मोहम्मद आमिर: पाकिस्तान के सबसे प्रमुख गेंदबाज मोहम्मद आमिर पिछले एक साल से फॉर्म में नहीं थे। वर्ल्ड कप से पहले 12 महीने में उन्होंने 11 मैच में सिर्फ 3 विकेट लिए थे। अनुभवी होने के कारण चयनकर्ताओं ने उन पर विश्वास दिखाते हुए वर्ल्ड कप टीम में शामिल किया। उन्होंने चयनकर्ताओं के इस फैसले को सही साबित करते हुए तीन मैच में 10 विकेट ले लिए। भारत के खिलाफ छह मैच में उनके नाम पांच विकेट है। चैम्पियंस ट्रॉ़फी के फाइनल में भारत के खिलाफ उन्होंने छह ओवर में तीन विकेट लिए थे।
 
पाकिस्तान की कमजोरी
लंबी पारी खेलने में नाकाम ओपनर्स: पहले मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ इमाम उल हक और फख्र जमां ने 17 रन की साझेदारी की थी। उस मैच में इमाम ने दो और जमां ने 22 रन बनाए थे। दूसरे मैच में इंग्लैंड के खिलाफ दोनों ने 82 रन की साझेदारी की। इमाम ने 44 और जमां ने 36 रन बनाए। श्रीलंका के खिलाफ मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दोनों ने सिर्फ दो रन की साझेदारी की। उस मैच में इमाम ने 53 रन बनाए लेकिन जमां खाता भी नहीं खोल पाए। दोनों ही बल्लेबाज अच्छी शुरुआत देने के बावजूद बड़ा स्कोर बनाने में नाकाम रहे। टीम प्रबंधन चाहेगा कि इस मैच में दोनों अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में बदलें।

दोनों टीमें 
भारत: विराट कोहली (कप्तान), जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल, शिखर धवन, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, भुवनेश्वर कुमार, हार्दिक पंड्या, लोकेश राहुल, मोहम्मद शमी, विजय शंकर, रोहित शर्मा, कुलदीप यादव।

पाकिस्तान: सरफराज अहमद (पाकिस्तान), आसिफ अली, बाबर आजम, फख्र जमां, हैरिस सोहेल, हसन अली, इमाद वसीम, इमाम उल हक, मोहम्मद आमिर, मोहम्मद हफीज, मोहम्मद हसनैन, शादाब खान, शाहीन अफरीदी, शोएब मलिक, वहाब रियाज।

Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *