देश

हिमाचल-पूर्वी मप्र समेत 10 राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट, उत्तराखंड में बादल फटने से 17 मौतें

नई दिल्ली. देश के उत्तरी और पहाड़ी राज्यों में भारी बारिश का दौर जारी है। मौसम विभाग ने सोमवार को हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पूर्वी मध्य प्रदेश समेत 10 राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। उत्तराखंड के उत्तरकाशी में बादल फटने से दो दिन में 17 लोगों की जान चली गई। सेना के हेलिकॉप्टर राहत और बचाव अभियान में जुटे हैं। दूसरी ओर, हिमाचल में रविवार को भारी बारिश और भूस्खलन से 24 लोगों की मौत हो गई।

मौसम विभाग के मुताबिक, सोमवार को हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और पुड्डुचेरी के कुछ इलाकों में भारी बारिश की आशंका है। मानसून की शुरुआत से अब तक देशभर में 626 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। यह सामान्य 612 मिमी से करीब 2% ज्यादा है।

उत्तराखंड: उत्तरकाशी में बादल फटने से कई मकान दबे

उत्तरकाशी में शनिवार रात बादल फटा, जिससे कई मकान दब गए। सोमवार को राज्य के आपदा प्रबंधन विभाग के प्रभारी सचिव एसए मुरुगेशन ने बताया कि उत्तरकाशी की मोरी तहसील में बादल फटने से 17लोगों की जान गई। सेना के दो हेलिकॉप्टर उत्तरकाशी में राहत और बचाव अभियान में जुटे हैं। मोरी से दो लोगों को सुरक्षित निकाला गया। उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़, देहरादून, पौढ़ी और नैनीताल में अगले 19 और 20 अगस्त को भारी बारिश का अलर्ट है। स्कूलों की छुट्टी घोषित की गई। उधर, बद्रीनाथ हाईवे पर 5 जगह भूस्खलन होने से 800 यात्री फंसे हुए हैं। बद्रीनाथ और हेमकुंड जा रहे यात्रियों को जोशीमठ, पांडुकेश्वर और गोविंदघाट में सुरक्षित स्थानों पर रोक लिया है।

हिमाचल:9 नेशनल हाईवे समेत 877 सड़कें बंद

राज्य के कुल 12 जिलों में से 11 भारी बारिश की चपेट में हैं। भूस्खलन और सड़कबहने सेप्रदेशभर में 9 नेशनल हाईवे समेत 877 सड़कें बंद हो गईं। राज्य में रविवार को 102.5 मिमी बारिश हुई। यह एक दिन में होने वाली औसत बारिश से 1065% ज्यादा है। रविवार को शिमला में सतलज नदी पर बना पुल बह गया।

दिल्ली: यमुना खतरे के निशान से ऊपर, केजरीवाल ने बैठक बुलाई

हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से 8 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने से यमुना का जलस्तर बढ़ गया है। दिल्ली में यह खतरे के निशान से ऊपर 204.70 मीटर पर बह रही है। सरकार ने संवेदनशील जगहों पर सिविल डिफेंस के कर्मचारियों को तैनात किया है। साथ ही यमुना से सटे राजधानी के निचले इलाकों को खाली कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आपात बैठक बुलाई।

मध्य प्रदेश: भाेपाल समेत कई शहरों में कल से फिर तेज बारिश होगी
पूर्वी मध्य प्रदेश में बारिश का दौर जारी है। रविवार को भाेपाल-इंदाैर समेत प्रदेश के 12 शहरों में बारिश हुई। वरिष्ठ माैसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि सेंट्रल वेस्ट बंगाल और झारखंड के इलाकों में लाे प्रेशर एरिया बन गया है। इससे 20 अगस्त से बारिश की तीव्रता बढ़ सकती है। सागर में सबसे ज्यादा सवा इंच बारिश हुई।

पंजाब में ब्यास नदी उफान पर

वहीं, पंजाब में ब्यास नदी में बाढ़ की स्थिति है। गुरुदासपुर जिले से रविवार को 11 लोगों को रेस्क्यू किया गया है। उधर, राजस्थान के पाली, धौलपुर और अजमेर में भारी बारिश हुई। आबू और पुष्कर में होटल रिजॉर्ट खाली करा लिए गए।

रविवार को इन जगहों पर भारी बारिश

स्थान बारिश (इंच में)
रामगुंडम (तेलंगाना) 8
तिरुपति(आंध्र) 7
रांची (झारखंड) 6
विशाखापट्टनम (आंध्र) 5
चेन्नई (तमिलनाडु) 3
सालोन, कल्पा (हिमाचल) 2
हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में नदियां उफान पर हैं।
Rains in North indian 19 august updates news
Rains in North indian 19 august updates news

Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *