देश

पाकिस्तानी बीएटी की घुसपैठ नाकाम, मारे गए करीब 7 आतंकियों के शव एलओसी पर पड़े हैं: सेना

  • Hindi News
  • National
  • intelligence warning for terror attack in Jammu Kashmir by JeM Jaish e Mohammad

  • सेना के मुताबिक, आतंकियों ने पिछले 36 घंटों में कई बार एलओसी पार करने का प्रयास किया
  • जैश के 15 आतंकी पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) के अलग-अलग ट्रेनिंग कैम्पों में पहुंचे- रिपोर्ट
  • पुंछ में भारतीय सेना की पोस्ट के नजदीक पीओके के नेजापीर में जैश के तीन आतंकी कैंप 
  • आतंकी मसूद अजहर के भाई इब्राहिम ने पीओके में जैश को फिर से सक्रिय किया

Dainik Bhaskar

Aug 03, 2019, 10:27 PM IST

श्रीनगर. भारतीय सेना ने पाकिस्तानी बीएटी (बॉर्डर एक्शन टीम) स्क्वॉयड के आतंकियों की कश्मीर में घुसपैठ की कोशिश नाकाम कर दी। भारतीय सेना ने शनिवार शाम को बताया कि आतंकियों ने पिछले 36 घंटों में कई बार केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार करने का प्रयास किया। जवाबी कार्रवाई के दौरान 5 से 7 आतंकी मारे गए। फिलहाल उनके शव एलओसी पर पड़े हैं, जो गोलीबारी के कारण नहीं ले जाए गए। उधर, बारामूला में भी मुठभेड़ के दौरान जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी मार गिराए। इससे पहले खुफिया एजेंसियों ने पीओके में जैश के सक्रिय होने और उसके 15 आतंकियों के टेरर लॉन्च पैड पहुंचने का अलर्ट जारी किया था।

खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में जैश के आतंकियों को पाकिस्तान की एसएसजी कमांडो फोर्स पूरा समर्थन कर रही है। आतंकी और पाक सेना मिलकर एलओसी पर घुसपैठ के लिए बीएटी ऑपरेशन चला रही है। जैश के आतंकी कश्मीर में बड़े धमाकों को अंजाम देने की साजिश रच रहे हैं। इसके लिए उसने पीओके स्थित अपने कई ट्रेनिंग कैंप फिर से सक्रिय कर लिए हैं।

कश्मीर में 10 हजार जवानों की तैनाती

  1. बताया जा रहा है कि जैश के 15 आतंकी पीओके के नेजापीर सेक्टर में टेरर लॉन्च पैड पर पहुंच चुके हैं। नेजापीर पुंछ (कश्मीर) में भारतीय सेना की पोस्ट के नजदीक है। भारतीय सेना को अमरनाथ यात्रा पर पाक आतंकियों के हमले से जुड़ा का इनपुट मिलने के बाद शुक्रवार को अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों को जल्द वापस लौटने की सलाह दी गई थी। सरकार की अपील के बाद वायुसेना सी-17 ग्लोबमास्टर विमान से यात्रियों को कश्मीर से एयरलिफ्ट करेगी।

  2. पिछले दिनों मोदी सरकार ने कश्मीर में 10 हजार जवानों की तैनाती करने का फैसला लिया था। सोशल मीडिया पर अफवाह है कि सरकार जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 35ए को हटाना चाहती है। खुफिया विभाग की मानें तो इन्हीं 10 हजार जवानों की तैनाती के बाद जैश ने आतंकी हमले की साजिश रची।

  3. आतंकी मसूद अजहर के भाई इब्राहिम अजहर ने जैश को पीओके में फिर से सक्रिय किया है। फिलहाल, इब्राहिम ही इस संगठन को चला रहा है। खुफिया विभाग की मानें तो जैश ने श्रीनगर-बारामूला-उरी नेशनल हाईवे पर आईईडी ब्लास्ट की साजिश रची है। इसके लिए विस्फोटक सामग्री और हथियार घाटी में पहुंचाए गए हैं।

  4. जैश के प्रशिक्षित आतंकी टेरर लॉन्च पैड पहुंचे

    खुफिया एजेंसी ने इब्राहिम अजहर के पीओके में फिर से सक्रिय होने की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि जैश के 15 आतंकी पीओके में संगठन के मार्कज, सनम बिन सलमा, तर्नब फार्म पेशावर और खैबर पख्तूनख्वा कैम्प में पहुंच चुके हैं। इन सभी ने जैश के अस्कारी आतंकी ट्रेनिंग कैम्प में प्रशिक्षण लिया है।

  5. अमरनाथ और माछिल यात्रा रोकी गई

    शुक्रवार को सेना ने अमरनाथ यात्रा के मार्ग के पास आतंकियों के ठिकाने से पाकिस्तान में बनी बारूदी सुरंग (लैंडमाइन) और अमेरिकी स्नाइपर गन मिलने का खुलासा किया था। शनिवार को सुरक्षा कारणों से जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में 43 दिन तक चलने वाली माछिल माता यात्रा भी स्थगित कर दी गई।

  6. केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के कश्मीर दौरे के बाद राज्य में 10 हजार अतिरिक्त सुरक्षाबलों की 100 कंपनियां तैनात करने का फैसला लिया है। सरकारी सूत्र ने दावा किया कि राज्य में अनुच्छेद 35ए हटाने के बाद की स्थिति से निपटने के लिए जवान कश्मीर भेजे जा रहे हैं।

    DBApp

‘);$(‘#showallcoment_’+storyid).show();(function(){var dbc=document.createElement(‘script’);dbc.type=’text/javascript’;dbc.async=false;dbc.src=’https://i10.dainikbhaskar.com/DBComment/bhaskar/com-changes/feedback_bhaskar.js?vm15′;var s=document.getElementsByTagName(‘script’)[0];s.parentNode.insertBefore(dbc,s);dbc.onload=function(){setTimeout(function(){callSticky(‘.col-8′,’.col-4′);},2000);}})();}else{$(‘#showallcoment_’+storyid).toggle();callSticky(‘.col-8′,’.col-4′);}}

Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *