देश

शाह ने कहा- हिंदू आतंकी नहीं हो सकता, समझौता ब्लास्ट मामले में कोर्ट के फैसले से साबित हुआ

  • भाजपा अध्यक्ष ने कहा- देश में कभी हिंदुओं पर टेरर का टैग नहीं लगा था, कांग्रेस सरकार ने बदनाम किया
  • ”मोदी सरकार ने अंबेडकर स्टडी सेंटर बनाकर उन्हें सदियों तक जीवित रखने का काम किया”

बिजनौर. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रविवार को उप्र के दौरे पर पहुंचे। यहां उन्होंने बागपत, नगीना और धामपुर में सभाएं कीं। इस दौरान शाह ने कांग्रेस पर वोटबैंक की राजनीति के चलते देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा- इस देश में कभी हिंदुओं पर टेरर का टैग नहीं लगा था, लेकिन कांग्रेस सरकार ने हिंदुओं को बदनाम किया।

समझौता ब्लास्ट मामले में अभी पंचकूला की कोर्ट ने फैसला दिया है। जब यह हादसा हुआ था तब मनमोहन के नेतृत्व में यूपीए सरकार थी। तब कहा गया कि ये हिंदू टेरर का नमूना है। लेकिन कोर्ट के फैसले से यह साबित हो गया कि हिंदू कभी आतंकी नहीं हो सकता। 

हिंदू तो चींटियों को भी आटा डालता है- शाह

अमित शाह ने कहा कि मैं राहुल से पूछना चाहता हूं कि आतंक को धर्म से जोड़ने का पाप कांग्रेस ने किया है। आपने वोटबैंक की राजनीति के कारण हिंदू धर्म को बदनाम किया। हिंदू तो चींटियों को भी आटा डालता है, वह किसी को मार नहीं सकता है। इसके लिए राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए। 

मार्जिन बढ़ाकर वोट करने की अपील

शाह ने कहा-  मोदी को प्रधानमंत्री बनाने में पश्चिमी यूपी का सबसे बड़ा योगदान था। सभी सीटें भाजपा की झोली में दी थी। इस बार फिर देनी है, लेकिन मार्जिन बढ़ाकर। कहा- “मोदीजी के डर से भतीजा बुआ की गोदी में बैठे हैं। भाजपा की लहर चल रही देश में, लोग मोदी मोदी कर रहे हैं। यूपी में जबसे योगी सरकार आई है। तब से पलायन बंद हो गया है। गुंडे-माफिया जेल में पहुंच गए हैं। मोदी सरकार ने देश की महिलाओं को सम्मान दिया है। सरकार ने गन्ना किसानों को उनका हक दिलाया है।”

दलित वोटरों को साधा

अमित शाह ने कहा कि कुंभ में दलित भाइयों के पांव पखारने के लिए प्रधानमंत्री स्वयं वहां पहुंचे थे। डॉ. अंबेडकर की दुहाई देने वाली कांग्रेस ने उन्हें भारत रत्न नहीं दिया। राहुल के परनाना ने अंबेडकर साहब को कभी संसद में नहीं जाने दिया। संसद में उनकी तस्वीर भी नहीं लगने दी। जबकि भाजपा सरकार ने 26 नवंबर को बाबा साहब की याद में अंबेडकर स्टडी सेंटर मोदी ने दिया। मोदी सरकार ने उन्हें सदियों तक जीवित रखने का काम किया है। छोटे व सीमांत किसानों के लिए मोदी सरकार ने छह हजार रुपए देने का काम किया है।

समझौता ब्लास्ट मामले में चारों आरोपी बरी हुए

दिल्ली से लाहौर जा रही समझौता एक्सप्रेस ट्रेन में 18 फरवरी 2007 को पानीपत के दीवाना रेलवे स्टेशन के पास धमाका हुआ था। इस धमाके में दो बोगियों में आग लग गई थी, जिसमें 68 लोग जिंदा जल गए थे। हाल ही में पंचकूला की स्पेशल एनआईए कोर्ट ने इस मामले में असीमानंद समेत सभी चारों आरोपियों को बरी कर दिया। 

Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *