दुनिया

87 साल पुराने व्हाले डैम में दरार, 6500 लोग खतरे में; सुरक्षित जगह पहुंचाने की अपील

लंदन. इंग्लैंड केडर्बीशायर स्थित व्हाले डैम की दीवार का कुछ हिस्सा गिर गयाहै। इससे 87 साल पुरानाबांध कमजोर हो गयाहै। इसके चलते 6500 लोगों पर खतरा मंडराने लगा है। बारिश के बाद बांध में 113 करोड़(300 मिलियन गैलन) लीटर पानी भरा है। इससे दीवार पर और ज्यादा दबाव पड़ रहा है।

लिहाजा, प्रशासन ने लोगों के लिए चेतावनी जारी कर टोडब्रूक (डैम का इलाका) छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा है। पर्यावरण एजेंसी के मुताबिक, यहां रहना जान जोखिम में डालना है। हालांकि, लोगों का कहना है कि प्रशासन रहनेका कोई सुरक्षित विकल्प बताए।

  1. एजेंसी ने आशंका जताई कि 1931 में बने विक्टोरियन काल के डैम की दीवार टूटी तो गोइत घाटी में मौजूद घर, कारोबार सब पानी के साथ बह जाएगा। लोगों से गुरुवार तक घरों को छोड़ने अपने रिश्तेदारों और दूसरे शहरों में जाने को कहा गया था। इसके अलावा जो लोग शहर से बाहर हैं, उन्हें तुरंत नहीं लौटने को कहाहै। ऐसे लोगों को 6 किमीदूर चैपल के एन-ले-फ्रिथ हाईस्कूल में ठहरनेको कहा गया है।

    व्हाले डैम का एरियल व्यू।

  2. प्रशासन की चेतावनी के बाद कोई नहीं जानता कि लोगों को अपने शहर से कितनों दिनों तक बाहर रहना होगा। लोगों से अपने पालतू जानवरों को साथ लेने और जरूरी दवाएं साथ रखने की सलाह दी है। पुलिस ने कहा, जो लोग शहर छोड़कर जाने में सक्षम नहीं है, वे पुलिस को 101 पर सूचना दें।

    व्हाले डैम की कमजोर दीवार।

  3. 36 साल की एना एस्पिनॉल ने कहा कि उन्हें और अन्य लोगों को बांध के आसपास के क्षेत्र में रेत की बोरियां रखने के लिए बुलाया गया था, लेकिन स्ट्रक्चरल इंजीनियरों ने सलाह दी है कि ‘दीवार गिरने का खतरा अधिक है। पिछले कुछ दिनों में यहां हुई वर्षा के कारण डैम पूरा भरगया है। ऐसे में कभी, कुछ भी हो सकता है।

    DBApp

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

      डैम की दीवार का टूटा हुआ हिस्सा।

      Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *