दुनिया देश

आज है अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस

सांकेतिक तस्वीर – फोटो : दि डेली स्टार

आज के समय में दुनिया भर में करीब 6500 भाषाएं बोली जाती हैं। अलग-अलग स्थानों पर लोगों के संवाद करने के तरीके में बदलाव को ही भाषायी विविधता है। आज अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस है। आज का दिन दुनिया भर के विभिन्न देशों, राज्यों की मातृभाषाओं का सम्मान करने को और भाषायी व सांस्कृतिक विविधता और बहुभाषिता का प्रसार करने को समर्पित है।
साल 2000 में संयुक्त राष्ट्र ने इस दिन को अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस (इंटरनेशनल मदर लैंग्वेज डे) घोषित किया था। इससे पहले यूनेस्को ने सन 1952 में हुए भाषा आंदोलन में अपनी मातृभाषा के लिए जान लुटा देने वाले युवाओं की स्मृति में 1999 में 21 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस मनाने का एलान किया था। हर साल यह दिवस अलग थीम पर मनाया जाता है, इस बार इसकी थीम ‘विकास, शांति और संधि में देशज भाषाओं के मायने’ है।

कहते हैं कि भाषा किसी बंधन, सीमा, धर्म, जाति की गुलाम नहीं होती। भाषा उसकी होती है जो उसे बोलता है। विभिन्न भाषाएं अपने भौगोलिक, सांस्कृतिक इतिहास को बयान करती हैं। किसी भी स्थान के असल महत्व को समझने के लिए वहां की मातृभाषा से बेहतर माध्यम कुछ नहीं हो सकता। आज का दिन हमें इस बात के लिए प्रेरित करता है कि हम अपनी मातृभाषा से प्रेम करें और दूसरी भाषाओं को भी उतना ही सम्मान दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *