खेल

बॉक्सिंग फेडरेशन ने कहा- बिना दर्शकों के टूर्नामेंट होंगे, एसी की जगह हवादार एरिना में मुकाबले होंगे

लॉकडाउन खत्म होने के बाद बॉक्सिंग टूर्नामेंट बिना दर्शकों के शुरू होंगे। इतना ही नहीं एयर कंडीशन्ड वेन्यू की जगह खुले और हवादार एरिना में मुकाबले होंगे। इस संबंध में बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने 19 पन्नों का स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर (एसओपी) जारी किया है।
कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए 60 साल से ज्यादा उम्र के ऑफिशियल्स को भी रिंग के पास आने-जाने की इजाजत नहीं होगी।

मुक्केबाजों को व्यक्तिगत ट्रेनिंग की इजाजत
साई ने खिलाड़ियों के लिए जो हेल्थ प्रोटोकॉल जारी किए हैं, उसका भी पालन करना होगा। भारतीय खेल प्राधिकरण ने बॉक्सिंग को कॉन्टैक्ट स्पोर्ट्स में रखा है। क्योंकि यहां खिलाड़ियों के बीच आपसी सम्पर्क ज्यादा होता है। इसलिए संक्रमण के खतरे को देखते हुए फिलहाल व्यक्तिगत ट्रेनिंग की इजाजत ही दी गई है।

बॉक्सिंग फेडरेशन के एसओपी की अहम बातें

  • एयर कंडीशन्ड एरिना की बजाए खुले और हवादार स्टेडियम में मुकाबले हों
  • राष्ट्रीय या राज्य स्तरीय टूर्नामेंट में कम से कम वॉलेंटियर्स की मदद ली जाए
  • स्टेडियम में गैर जरूरी लोगों की एंट्री पूरी तरह से बैन रहेगी
  • स्टेडियम को समय-समय पर सैनिटाइज किया जाए
  • वेन्यू के हर आने-जाने वाले पॉइंट पर डिसइन्फेक्टेंट टनल बनाई जाएं
  • खिलाड़ी, कोच और ऑफिशियल की लगातार स्क्रीनिंग की जाए
  • हर बार ट्रेनिंग से पहले और बाद में खिलाड़ी और कोच अपने इक्विपमेंट सैनिटाइज करेंगे
  • इसके अलावा खिलाड़ियों और कोचिंग स्टाफ को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना होगा

खिलाड़ियों को फूड पैकेट दिए जाएंगे

बीएफआई ने टूर्नामेंट के दौरान खिलाड़ियों के रहने और खाने के इंतजाम को लेकर भी बदलाव किया है। अब एक कमरे में एक ही खिलाड़ी को रखा जाएगा। डायनिंग एरिया में एक साथ खाने की बजाए खिलाड़ियों को फूड पैकेट दिए जाएंगे।

बीएफआई इस साल अक्टूबर-नवंबर में नेशनल टूर्नामेंट शुरू कराना चाहता है। इसके बाद दिसंबर में एशियन चैम्पियनशिप होगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने साफ कहा है कि कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए 60 साल से ज्यादा उम्र के ऑफिशियल्स को रिंग के पास आने-जाने की इजाजत नहीं होगी। (फाइल)

Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *