टेक्नोलॉजी

टेक वर्ल्ड की तीन मशहूर कहानियां, दोस्ती के कारण दुनिया को मिले एपल, फेसबुक और वॉट्सऐप

गैजेट डेस्क. फ्रेंडशिप डे के मौके पर हम आपको उन तीन टेक कंपनियों के बारे में बता रहे हैं, जिनके पीछे दोस्तों की कहानी छिपी है। जब इन कंपनियों को शुरू किया गया तब इन्हें बनाने वाले दोस्तों ने भी इतनी बड़ी सफलता के बारे में नहीं सोचा होगा।

  1. वॉट्सऐप भले ही आज मार्क जुकरबर्ग के फेसबुक का हिस्सा है, लेकिन इसे बनाने वाले दो दोस्त जेन कूम और ब्रायन एक्टन है।

    friendship day 2019

    एक वक्त इन दोनों दोस्तों ने याहू जैसी पॉपुलर कंपनी की नौकरी छोड़ दी थी। बाद में इन्होंने फेसबुक में नौकरी के लिए अप्लाई किया, लेकिन वहां से रिजेक्ट हो गए।

    friendship day 2019

    कूम और एक्टन की मुलाकात 1997 में सैन जोस स्टेट यूनिवर्सिटी में हुई थी। 2000 में जब कूम की मां की मौत हुई तब वे बेहद अकेले हो गए। ऐसे वक्त में एक्टन ने उनका साथ दिया।

    friendship day 2019

    दोनों कॉफी शॉप में बैठकर एक ऐप बनाने के बारे में सोचते थे। जिसमें ऐप के स्टेटस से पता चल जाए कि व्यक्ति क्या कर रहा है। बाद में ऐप बनाकर इसका नाम ‘what’s up’ रखा गया।

    friendship day 2019

  2. दुनिया की सबसे बड़ी टेक कंपनियों में शामिल एपल को तीन दोस्तों ने अप्रैल 1976 में मिलकर शुरू किया था। इनके नाम स्टीव जॉब्स, स्टीव वोजनियाक और रोनाल्ड वेन हैं।

    friendship day 2019

    स्टीव जॉब्स और स्टीव वोजनियाक में बचपन से ही दोस्ती थी। 1976 में वोजनियाक ने मैकिनटोश एपल 1 कम्प्यूटर का आविष्कार किया।

    friendship day 2019

    जब इसे जॉब्स ने देखा तो उसे बेचने का सुझाव दिया। इसके बाद दोनों ने एक गैरेज में एपल कम्प्यूटर का निर्माण करने लगे। यहां से ही एपल कंपनी की शुरुआत हुई।

    friendship day 2019

    स्टीव जॉब्स ने अपने बचपन के दोस्त स्टीव वोजनियाक को धोखा भी दिया है। दरअसल जॉब्स को आर्किड वीडियो गेम ब्रेकआउट के लिए सर्किट बनाने का काम सौंपा गया था।

    friendship day 2019

    मशीन में लगने वाली हर चिप के लिए उन्हें 100 डॉलर मिलने थे, लेकिन वे कोड बनाना नहीं जानते थे। ऐसे में उन्होंने अपने दोस्त वोजनायिक को ये काम सौंप दिया। साथ ही बताया कि इस काम के लिए हमें 700 डॉलर मिलेंगे।

    friendship day 2019

    प्रोजेक्ट खत्म होने के दस साल बाद वोजनियाक को पता चला कि जॉब्स को इस काम के लिए 5000 डॉलर मिले थे। एक वक्त के बाद वोजनियाक और जॉब्स अलग हो गए और वोजनियाक ने अपनी अलग कंपनी बना ली।

    friendship day 2019

  3. दुनिया का सबसे बड़ा सोशल प्लेटफॉर्म बन चुके फेसबुक को मार्क जुकरबर्ग ने अपने चार कॉलेज फ्रेंड्स डस्टिन मोस्कोविट्ज, क्रिस ह्यूज, एडुआर्डो सेवेरिन और एंड्रूय मैक्कुलम के साथ शुरू किया था।

    friendship day 2019

    उस वक्त इसका नाम ‘द फेसबुक’ रखा गया था। 4 फरवरी, 2004 को इसे हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के छात्रों के लिए लॉन्च किया गया था।

    friendship day 2019

    जुकरबर्ग ने फेसबुक को आगे बढ़ाने के लिए हार्वर्ड यूनिवर्सिटी छोड़कर कैलिफॉर्निया के पालो अल्टो में किराए का घर लिया। इसी दौरान पेपाल के को-फाउंडर पीटर थील ने फेसबुक में 355 करोड़ रुपए का निवेश किया।

    friendship day 2019

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

      Apple, Facebook and WhatsApp Founders are Friends, Who Found Big Tech Company

      Source: bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *